TikTok owners apply for export license in China to complete deal in US | अमेरिका में बैन के बाद TikTok ने चीनी सरकार से की ये मांग


बीजिंग: टिकटॉक (Tik Tok) चलाने वाली कंपनी बाइटेडांस (ByteDance) ने अमेरिका (America) में परिचालन बनाए रखने के लिए आवश्यक सौदे को पूरा करने को लेकर चीन में प्रौद्योगिकी निर्यात लाइसेंस का आवेदन किया है. कंपनी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी.

अमेरिका ने टिकटॉक को सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुए कहा है कि कंपनी अमेरिका के उपयोगकर्ताओं की सूचनाएं चीन की सरकार को सौंप सकती है. अमेरिका की सरकार ने इसका हवाला देते हुए टिकटॉक पर पाबंदियां लगा दी. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि टिकटॉक को अमेरिका में परिचालन जारी रखने के लिए किसी अमेरिकी कंपनी के साथ सौदा करना होगा. इसी के तहत ByteDance अमेरिका में नई इकाई टिकटॉक ग्लोबल गठित कर रही है, जिसमें 20 प्रतिशत हिस्सेदारी ओरेकल कॉर्प और वालमार्ट इंक को बेचने का प्रस्ताव है.

ये भी पढ़ें:- कॉलेज की फीस नहीं दे पाने से अटकी छात्र की डिग्री, सोनू सूद ने ऐसे की मदद

ट्रंप ने पिछले सप्ताह कहा था कि वह टिकटॉक ग्लोबल की हिस्सेदारी ओरेकल और वालमार्ट को बेचे जाने के सौदे को मंजूरी दे सकते हैं. हालांकि, ट्रंप का कहना है कि इस सौदे में ओरेकल के पास पूरा नियंत्रण रहने की शर्त होनी चाहिए. बाइटडांस ने बयान में कहा कि उसने एक प्रौद्योगिकी निर्यात लाइसेंस के लिए बीजिंग म्यूनिसिपल ब्यूरो ऑफ कॉमर्स के पास आवेदन किया और उत्तर की प्रतीक्षा कर रही है. कंपनी ने एक पंक्ति के इस बयान में कोई भी अन्य विवरण नहीं दिया.

चीन के अधिकारियों ने अभी इस बात का संकेत नहीं दिया है कि क्या वे प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण के लिये सहमत होंगे. लेकिन सरकारी अखबारों ने इस सप्ताह प्रस्तावित समझौते को बदमाशी और जबरदस्ती बताया तथा इसकी आलोचना की. समाचार पत्रों में बुधवार को कहा कि चीन के पास इस तरह के सौदे को हरी झंडी देने का कोई कारण नहीं है, जो गलत और अनुचित है. चीन के विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि चीन अपनी कंपनियों के हितों की रक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएगा. हालांकि, मंत्रालय ने इस बात पर कुछ नहीं बताया कि अमेरिका में टिकटॉक के भविष्य को लेकर किस तरह के कदम उठाये जायेंगे.

LIVE TV





Source link

Related Articles

pune padvidhar election making a bet in sangli: पुणे पदवीधर निवडणूक कोण जिंकणार? सांगलीत लागल्या पैजा – pune padvidhar election making a bet in...

सांगली: पुणे पदवीधर मतदारसंघाच्या निवडणुकीत ( pune padvidhar election ) महाविकास आघाडी आणि भाजपचे उमेदवार सांगली जिल्ह्यातील आहेत. राष्ट्रवादीचे अरुण लाड ( arun...

BJP, oppn conflict over J&Okay internet clampdown at panel meet | India Information

NEW DELHI: A meeting of the parliamentary standing committee on information technology headed by Shashi Tharoor saw a sharp exchange between BJP and...

Akbaruddin Owaisi Gave Arguable Commentary, Trs And Bjp Fumes – अकबरुद्दीन ओवैसी ने दिया विवादित बयान, टीआरएस और भाजपा भड़की 

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हैदराबाद Updated Thu, 26 Nov 2020 12:27 AM IST पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹299...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

20,764FansLike
2,451FollowersFollow
16,800SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

pune padvidhar election making a bet in sangli: पुणे पदवीधर निवडणूक कोण जिंकणार? सांगलीत लागल्या पैजा – pune padvidhar election making a bet in...

सांगली: पुणे पदवीधर मतदारसंघाच्या निवडणुकीत ( pune padvidhar election ) महाविकास आघाडी आणि भाजपचे उमेदवार सांगली जिल्ह्यातील आहेत. राष्ट्रवादीचे अरुण लाड ( arun...

BJP, oppn conflict over J&Okay internet clampdown at panel meet | India Information

NEW DELHI: A meeting of the parliamentary standing committee on information technology headed by Shashi Tharoor saw a sharp exchange between BJP and...

Akbaruddin Owaisi Gave Arguable Commentary, Trs And Bjp Fumes – अकबरुद्दीन ओवैसी ने दिया विवादित बयान, टीआरएस और भाजपा भड़की 

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हैदराबाद Updated Thu, 26 Nov 2020 12:27 AM IST पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹299...

BJP and TMC Employees Conflict in Bengal’s Birbhum, Bombs Thrown

<!-- -->BJP supporters said 2 of their supporters were injured in firing by TMC activists (Representational)Kolkata: Crude bombs were hurled and stones thrown...

કોંગ્રેસના ચાણક્ય અહેમદ પટેલનું 71 વર્ષની વયે નિધન

- કોરોના બાદ વિવિધ અંગોએ કામ કરવાનું બંધ કરી દેતા ગુરુગ્રામની હોસ્પિટલમાં પરોઢીયે ૩.૩૦ કલાકે અંતિમ શ્વાસ લીધા- ઇંદિરા, રાજીવ, સોનિયા ગાંધી ત્રણેયના...